||वास्तुदोष रामबाण||वास्तु दोष से हैं ग्रसित तो लगाए यह १  पौधा जल्द ही होगी घर में  सुख वृद्धि |

||वास्तुदोष रामबाण||वास्तु दोष से हैं ग्रसित तो लगाए यह १ पौधा जल्द ही होगी घर में सुख वृद्धि |

वास्तुविचार

परमात्मा की इस श्रिस्टी में सब कुछ संजोगने योग्य है तथा हर वस्तु,जीव जन्तु,का एक अपना ही मह्त्व है और उससे होने वाले फायदे का हमें पाता ही नहीं है तभी हम उनसे वंचित रहते हैं किसी भी प्रकार के दोष का उपाए हमारे सामने होता है परन्तु हम उसे देख नहीं पाते और दुःख भोगते रह जाते हैं|

वास्तु के अनुसार पेड़-पौधों का अधिक महत्व माना जाता है। इसके हिसाब से कई पेड़-पौधे बेहद शुभ होते हैं और इनको घर में लगाने से अनेकों फायदे होते हैं। उन्हीं में से एक महत्वपूर्ण पौधा तुलसी के पौधे को माना जाता है। वास्तु शास्त्र की माने तो इसे घर में रखने से कई प्रकार के वास्तुदोष दूर हो सकते हैं।

घर में वास्तु दोष दूर करने के लिए इसे दक्षिण-पूर्व से लेकर उत्तर-पश्चिम तक किसी भी खाली कोने में लगाया जा सकता है। यदि खाली स्थान न हो, तो गमले में भी तुलसी के पौधे को लगाया जा सकता है।

तुलसी का पौधा किचन के पास रखने से घर के सदस्यों में आपसी सामंजस्य बढ़ता है। पूर्व दिशा में यदि इसे खिड़की के पास रखा जाए तो आपकी संतान आपका कहना मानने लगेगी।

अगर संतान बहुत ज्यादा जिद्दी और अपनी मर्यादा से बाहर है तो पूर्व दिशा में रखे तुलसी के पौधे के तीन पत्ते रोज उसे किसी न किसी तरह खिला दें।

यदि आपकी कन्या का विवाह नहीं हो रहा हो तो तुलसी के पौधे को दक्षिण-पूर्व में रख कर उसे नियमित रूप से जल अर्पित करें। इस उपाय से जल्द ही योग्य वर की प्राप्ति होगी।

यदि आपका कारोबार ठीक से नहीं चल रहा है तो तुलसी के पौधे को नैऋत्य कोण में रख कर हर शुक्रवार को कच्चा दूध चढ़ाएं।

नौकरी में यदि उच्चाधिकारी की वजह से परेशानी हो तो आफिस में जहां भी खाली जगह हो वहां पर सोमवार को तुलसी के सोलह बीज किसी सफेद कपड़े में बांध कर कोने में दबा दें। इससे आपके संबंध सुधरने लगेंगे।

तुलसी को घर पर लगाने से बुरी आत्माओं का साया परिवार पर नहीं पड़ता। यदि कोई अपवित्र शक्ति का साया महसूस भी करता है तो उसे तुलसी लगाने की सलाह दी जाती है।

हिंदू मान्यता के अनुसार, तुलसी किसी-किसी की किस्मत भी चमका सकती है। इसीलिए कुछ लोग कोई भी शुभ कार्य करते समय तुलसी की पत्ती मुंह में डाल लेते हैं।तो बनाये अपने घर परिवार को सुखी सम्पन्न और ले श्री सीताराम जी का नाम जय सिया राम |

No Responses

Write a response